Home » धन्य धन्य गुरु प्यारी साध संगत जी

धन्य धन्य गुरु प्यारी साध संगत जी

सतिगुरु जी के हुक्म के अनुसार सत्संग मर्यादा का संगत में सख़्ती से अनुपालन हो। क्योंकि हर कोई अपने पाँच अवगुणों से लड़ रहा है।   सतिनाम सत्संग मर्यादा   धन्य धन्य सति पारब्रह्म महाराज जी सति (अनादि सत्य) पारब्रह्म … Read More

Loading...